समन्वय समिति बैठक-8 जून 2017

अभियान की समन्वय समिति बैठक दिनाक 8 जून 2017 को होटल अंकित जबलपुर में हुई जिसमें राज्य समन्वय समिति के 10 सदस्य व् CHSJ से 3 साथी उपस्थित थे|इस बैठक का आयोजन काफी लम्बे समय के बाद संभव हो पाया था और अभियान सम्बंधित कई महत्वपूर्ण मुद्दों पर खुली चर्चा की गयी जिसमें उपस्थित साथियों ने अपनी प्रतिक्रिया दी व् राय रखी जिसका सारांश संलग्न रिपोर्ट में है|

समन्वय समिति बैठक रिपोर्ट 

Advertisements

हर साल औसतन फेल हो रहे है सवा हजार नसबंदी ऑपरेशन – मध्यप्रदेश

दिनांक – 20 मार्च 2017

स्रोत – बिच्छु डॉट कॉम

प्रदेश में नसबंदी लक्ष्य को पूर्ति करने में चिकित्सक इतने लापरवाह है की औसतन करीब हर साल सवा हजार नसबंदी ओपरेशन फेल हो रहे है

विस्तृत खबर के लिए लिंक – http://bichhu.com/?p=115801

नसबंदी के बाद 44 महिलाए हुई गर्भवती – ग्वालियर

दिनांक – 20 फरवरी 2017

स्रोत – पत्रिका, ग्वालियर

मध्यप्रदेश सरकार जनसंख्या वृद्धि पर रोक लगाने के उद्धेश्य से किये जाने वाले नसबंदी ऑपरेशन फेल हो रहे है ग्वालियर में  पिछले दो सालो में नसबंदी ऑपरेशन के बाद 44 महिलाए गर्भवती हुई है | मुआवजे के लिए भटक रही है महिलाये

विस्तृत खबर के लिए लिंक

  1. http://epaper.patrika.com/1111194/Patrika-Gwalior/gwalior-patrika#page/7/1
  2.  http://epaper.patrika.com/1111194/Patrika-Gwalior/gwalior-patrika#clip/17024747/9163e676-d43a-43aa-958c-d2cf601a385b/936:407.80308880308877

सिंगरौली जिला अस्पताल में फिर हुई मानवता शर्मसार

दिनांक – 18 फरवरी 2017

स्रोत – पत्रिका

सिंगरौली निवासी बसंती को प्रसव पीड़ा होने पर जिला अस्पताल, सिंगरौली  लाया गया जहा पर डॉ ने गंभीर बता कर रेफर कर दिया | महिला की हालत नाजुक होने के कारन वहा चल नहीं पा रही थी फिर भी आशा के सहयोग से अस्पताल से बहार जाने के दौरान गेट में प्रसव हो गया |

http://epaper.patrika.com/c/16944043

http://epaper.patrika.com/1108476/Singrauli-Patrika/sidhi-singruli#page/3/1

महिलाओं के सहयोग से अस्पताल के चौखट में कराया प्रसव – श्योपुर

दिनांक – 18 जनवरी 2017

स्रोत – पत्रिका श्योपुर

दांतेटी निवासी केशव की पत्नी को प्रसव पीड़ा होने पर प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र ढोढर ले गया जहा पर ड्यूटी नर्स आराम कर रही थी प्रसूता को जाँच के लिए बोला गया पर वे नहीं आई, महिला की हालत बिगड़ने पर साथ आई महिला ने अस्पताल के चौखट पर प्रसव करवाया | प्रसव के बाद नर्स ने बदसलूकी करते हुए बहार आई और भारती करने के लिए 500 रुपये की मांग की और कही बिना रुपये दिए यहाँ पर कुछ भी नहीं हो सकता है और सेवा देने से इंकार कर दी |

पूरी खबर पड़ने के लिए क्लीक करे

& http://epaper.patrika.com/1074251/Sheyopur-Patrika/sheopur-patrika#page/1/1

प्रसव के बाद महिला की मौत – बैतूल

दिनांक – 21 जनवरी 2017

विमला पति सुनील को रात को प्रसव पीड़ा होने पर जननी वाहन को कॉल किया पर जब तक वाहन आता तब तक घर में प्रसव हो चूका था | रात 1.30 पर वाहन आई विमला को प्राथमिक स्वास्थ्य केंद्र हीरापुर ले गया जहा पर भर्ती कर इलाज किया गया और दुसरे दिन छुट्टी दे दिया गया परन्तु एक सप्ताह बाद घर में अचानक बेहोश हो गयी जिसके बाद विमला को सामुदायिक स्वास्थ्य केंद्र शाहपुर ले गया जहा पर जिला अस्पताल के लिए रेफर कर दिया गया जहा पर विमला की मौत हो गयी |
अधिक जानकारी के लिए

http://epaper.bhaskar.com/detail/1155248/12114735750/mpcg/map/tabs-1/01-21-2017/405/1/image/

नहीं मिला स्ट्रेचर, जननी वाहन में हो गया प्रसव – श्योपुर

दिनांक – 14 जनवरी 2017

स्रोत – पत्रिका न्यूज़, श्योपुर

श्योपुर जिले के नरवर निवासी जमुना पति गजेन्द्र को प्रसव पीड़ा होने पर जननी वाहन से जिला अस्पताल श्योपुर पहुंचा जहा पर जननी वाहन के ड्राईवर ने जननी को अस्पताल के अन्दर लेन के लिए स्ट्रेचेर की मांग की पर डॉक्टर और नर्स नहीं सुना क्योकि सर्दी अधिक होने के कारन दोनों हीटर का आनंद ले रहे थे | इस प्रक्रिया में 20 मिनट गुजर गया पर कोई भी अस्पताल कर्मचारी मदद के लिए नहीं आया अंत में वाहन पर ही प्रसव हो गया इसके बाद डॉक्टर व नर्स हरकत में आये और जमुना को असपताल में भर्ती किया |

पूरी खबर पड़ने के लिए क्लीक करे

http://naiduniaepaper.jagran.com/epaper/14-jan-2017-55-Madhyanchal-edition-Gwalior.html